Study of india

In this blog, you will find information about Indian history, Indian constitution, gk questions, current affairs, geography, general knowledge, iq test and map of India etc.

Wednesday, July 24, 2019

भारत में यूरोपीय कंपनियों का आगमन pdf

July 24, 2019

भारत में यूरोपीय कंपनियों  का आगमन 
The arrival of European companies in India

भारत में यूरोपीय कंपनियों का आगमन pdf
flag of european countries

15 वी शताब्दी तक यूरोप में नई भौगोलिक खोजो जैसे दिशा सूचक यंत्र तथा जहाज नर्माण आदि ने भौगोलिक खोजो को प्रोत्साहित किया। भारत की प्राचीन सांस्कृतिक विरासत, आर्थिक संम्पन्नता, आध्यात्मिक उपलब्धियां, दर्शन, कला आदि से प्रभावित होकर मध्यकाल में बहुत से व्यापारियों एवं यात्रियों का यहाँ आगमन हुआ । 1488 ई०  में भारत आने के लिये केव ऑफ गुडहोप होकर एक नए सामुद्रिक मार्ग की खोज बार्थोलोम्यो डियाज द्वारा की गई। इसी क्रम में 1492 ई० में स्पेन का एक नाविक कोलम्बस भारत की खोज में निकला किन्तु भटककर अमेरिका पहुँच गया। ओर इस तरहा 1492 ई० में अमेरिका की खोज हुई। परन्तु अभी भी सभी यूरोपियन भारत को खोजने में असफल रहे। किन्तु ये इंतेज़ार अब खतम होने वाला था ओर 1498 ई० में वास्कोडिगामा भारत की खोज करने में सफल रहा। ओर इस तरहा 1498 ई० में भारत की खोज हुई।

Portuguess in india( भारत में पुर्तगाली ):-

भारत में यूरोपीय कंपनियों का आगमन pdf
portugess flag

प्रथम पुर्तगाली यात्री वास्कोडिगामा 17 मई, 1498 ई० को एक गुजराती व्यपारी अब्दुल मजीर की सहायता से भारत के कालीकट पहुँचा। वास्कोडिगामा का स्वागत कालीकट के तत्कालीन शाशक जमोरिन (यह कालीकट के शाशक की उपाधि थी) द्वारा किया गया । तत्कालीन भारतीय व्यापर पर अधिकार रखें वाले अरब व्यापारियों को जमोरिन का यह व्यवहार पसंद नहीं आया , अतः उनके द्वारा पुर्तगालियों का विरोध किया गया । इस प्रकार हम देखते है के पुर्तगालियों के भारत आगमन से भारत एवं यूरोप के मध्य व्यापार के क्षेत्र में एक नए युग का सूत्रपात हुआ । भारत आने और जाने में हुए यात्रा व्यय के बदले में वास्कोडिगामा ने करीब 60 गुना अधिक धन कमाया ।
1596 ई० में कर्नेलिस-डि-हाऊटमैन (Cornelis de Houtman) भारत आने वाला प्रथम डच नागरिक था। 1602 ई० में भारत आने वाली पुर्तगाली कम्पनी का नाम इस्तदो-डी-इण्डिया था। तथा प्रथम फेक्ट्री कोचीन में 1503 ई० स्थापित की। ओर इसी क्रम में पुर्तगाली कम्पनी के कई गवर्नर भारत आये जिनमें से प्रथम पुर्तगाली गर्वनर जो भारत आये वे थे फ्रांसिस्को-डी-अल्मीडा जो 1505 ई० में भारत आये। ओर जिनका कार्यकाल1509 तक रहा। इन्होंने blue water polishe को प्रारंभ किया जोकि एक सामुद्रिक नीति थी। अल्मीडा के बाद अगले पुर्तगाली गवर्नर जो भारत आये वे थे अल्फांसो-डी-अल्बुकर्क जो 1509 ई० में भारत आये ओर लगभग 1514 ई० तक भारत में पुर्तगालियों के गवर्नर के रूप में भारत मे रहे। 1510 ई० में अल्बुकर्क ने वीजापुर के शासक से गोवा जीत लिया। अल्बुकर्क के बाद के गवर्नर्स ने भारत में बम्बई, दमन एवं द्वीप , साष्टि एवं हुगली पर अपना कब्जा किया। किन्तु ये सभी क्षेत्र इनके पास अधिक समय तक नहीं रह सके और जिनमे से अधिकांश क्षेत्र उनके हाथों से निकल गए किन्तु गोवा, दमन एवं दीप पर पुर्तगालियों ने अपना कब्जा 1961 ई० तक बनाये रखा।

Dutch in india( भारत में डच ):-

भारत में यूरोपीय कंपनियों का आगमन pdf
Dutch flag

पुर्तगालियो के बाद डच भारत आये। डच वर्तमान नीदरलैंड के निवासी थे। 1602 ई० में डच कम्पनी  वेरिगंदे ओस्टिंडिशे कंपनी स्थापित हुई जिसका एक अन्य नाम और था यूनाइटेड ईस्ट इंडिया कंपनी ऑफ़ नीदरलैंड जोकि कई कंपनियों का एक समूह था। डचों ने भारत मे अपनी प्रथम फेक्ट्री 1605 ई० में मसूली पटनम आंध्रप्रदेश में स्थापित की। परन्तु डचों ने अपनी राजधानी नेगापटनम को बनाया था। डच कम्पनी की भारत से अधिक रुचि इंडोनेशिया के मसाला व्यापार में थीं। डचों ने भारत से नील, शोरा एवं सूती वस्त्रो का बहुत अधिक मात्रा में निर्यात किया।

डचों की भारत मे अन्य महत्वपूर्ण फेक्ट्रीयाँ :-

पुलिकट, सूरत, चिनसुरा, नेगापटनम एवं काशिम बाजार।
डचों ने भारत पर लगभग 150 वर्ष व्यपार किया और सन 1759 ई० में बेदरा के युद्ध मे अंग्रेजो ने डचों को अन्तिम रूप से पराजित किया ओर भारतीय व्यपार से अलग कर दिया।



British raj या british in india( ब्रिटिश राज या  भारत में ब्रिटिश ):-

भारत में यूरोपीय कंपनियों का आगमन pdf
British flag

1599 ई० में जॉन मिलडिन हॉल नामक ब्रिटिश यात्री स्थल मार्ग से भारत आया। तथा 1599 ई० में ही मर्चेंट एडवेंचर्स नामक व्यापारियों के एक दल ने अंग्रेजी ईस्ट इण्डिया कम्पनी की स्थापना की। ओर इसके बाद 1600 ई० में ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ टेलर प्रथम ने कम्पनी को पूर्व के साथ व्यपार के लिए 15 वर्षों के लिए एकाधिकार पत्र प्रदान किया। इसे ही द गवर्नर एंड कंपनी ऑफ मर्चेंट ऑफ इंग्लैंड ट्रेडिंग टू दा ईस्ट इंडीज के नाम से जाना गया तथा संछिप्त में इसे ईस्ट इण्डिया कंपनी कहा गया।
ब्रिटिश राज की भारत मे प्रथम फेक्ट्री 1608 ई० में सूरत में स्थापित हुई। इसके बाद ब्रिटिश राज की एक ओर अन्य फैक्ट्री जोकि दक्षिण भारत की प्रथम फैक्ट्री थी 1611 ई० में मसूलीपटनम में स्थापित हुई। 1632 ई० में गोलकुण्डा के सुल्तान ने अंग्रेजों को एक सुनहला फरमान दिया जिसके अनुसार अंग्रेज सुल्तान को 500 पैगोडा वार्षिक कर देकर गोलकुण्डा राज्य के बंदरगाह पर स्वतंत्रता पूर्वक व्यापार कर सकते थे। 1687 ई० में अंग्रेजों ने पश्चिमी तट का मुख्यालय सूरत से हटा कर बम्बई को बनाया। 1674 ई० में फ्रांसिस मार्टिन ने पांडिचेरी की स्थापना की। 1760 ई० में अंग्रेजी सेना ने सर आयरकूट के नेतृत्व में वान्डीवाश की लड़ाई में फ्रांसीसियों को बुरी तरहा हराया। तथा 1761 ई० में अंग्रेजों ने पांडिचेरी को फ्रांसीसियों से छीन लिया। और 1763 ई० में हुई पेरिस सन्धि के द्वारा  अंग्रेजों ने चंद्रनगर को छोड़कर शेष अन्य प्रदेश को लौटा दिया, जो 1749 ई० तक फ्रांसीसियों के कब्जे में थे, ये प्रदेश भारत की आजादी तक फ्रांसीसियों के कब्जे में रहे।

French in india( भारत में फ्रेंच ):-

भारत में यूरोपीय कंपनियों का आगमन pdf
French flag

1664 ई० में फ्रांस के सम्राट लुई 14th के वित्त मंत्री कॉलबर्ट ने फ्रेंच ईस्ट इंडिया कम्पनी की स्थापना की। फ्रांसीसी कम्पनी, फ्रांसीसी सरकार द्वारा स्थापित थी। तथा यह एक प्रकार की सरकारी कम्पनी थी। तथा इस फ्रेंच कम्पनी का नाम "कम्पनी द इंडसे ओरिएंटेड" company the indse oriantd था। भारत में फ्रांसीसियों ने अपनी प्रथम फेक्ट्री सूरत में 1668 ई० में स्थापित की। तथा इस फेक्ट्री के स्थापनकर्ता फ़्रेको कैरो थे। 1673 ई० में फ़्रेको मार्टिन ने बलीकोन्दपुरम के सूबेदार शेर खा लोदी से कुछ गाँव प्राप्त किये जिसे भविष्य में पांडुचेरी के नाम से जाना गया। तथा फ्रांसीसियों द्वारा 1721 ई० में मोरिसस ओर 1721 ई० में माहे पर अधिकार कर लिया गया। इस प्रकार 1740 ई० के बाद भारत मे अंग्रेजों एवं फ्रांसीसियों के मध्य राजनीतिक प्रतिस्पर्धा प्रारम्भ हुई। जिसमें अन्ततः अंग्रेजों की विजय हुई।

Note:- वर्ष 1616 ई० में फ्रांसीसियों से पहले एक डेनिस अर्थात डेनमार्क की एक कम्पनी का भी भारत में आगमन हुआ था। यह कम्पनी अधिक समय तक अंग्रेजों से प्रतिस्पर्धा नही कर पाई और वर्ष 1845 ई० में अपनी समस्त फैक्ट्रियों को अंग्रेजों को बेच कर भारत से चली गयी।

Monday, July 8, 2019

Mughal empire | Aurangzeb Biography | Death , History & Facts

July 08, 2019

 Aurangzeb Biography 

(1658ई० - 1707ई०)

Mughal empire | Aurangzeb Biography, Death , History & Facts
Prince Aurangzeb

औरंगज़ेब का जन्म 24 अक्टूबर , 1618 ई० को दोहाद (गुजरात) नामक स्थान पर हुआ था। औरंगज़ेब सुन्नी धर्म को मानता था, तथा इसके व्यक्तिगत चारित्रिक विशेषता के कारण इसे जिन्दा पीर कहा जाता था। इसके गुरु मीर मुहम्मद हकीम थे। औरंगज़ेब के बचपन का अधिकांश समय नूरजहाँ के पास बीता। 18 मई ,1637 ई० को फारस के राजघराने की 'दिलरस बानो बेगम'(राबिया बीबी) के साथ औरंगज़ेब का निकाह हुआ। तथा औरंगज़ेब की एक बेटी महरुनिसा का भी इतिहास में ज़िक्र प्राप्त होता है।
Mughal empire | Aurangzeb Biography, Death , History & Facts
राबिया बीबी ओर औरंगजेब

उत्तराधिकारी का संघर्ष 

उत्तराधिकारी का संघर्ष शाहजहाँ के पुत्रों के बीच हुआ था। इस संघर्ष में शाहजहाँ के चारों पुत्रों -
  1. दारासिको 
  2. शाहशुजा
  3. औरंगज़ेब
  4. मुरादबक्च
के बीच मुख्य रूप से पाँच युद्ध हुए।
  1. बहादुरगढ़ का युद्ध
  2. धरमट का युद्ध
  3. सामूगढ़ का युद्ध
  4. खंजवा का युद्ध 
  5. देवराई का युद्ध
इन पाँचो युद्ध मे से देवराई का युद्ध काफी महत्वपूर्ण है। क्योंकि इसी युद्ध मे औरंगज़ेब ने अपने भाई दारासिको को पराजित किया था। तथा 31 जुलाई, 1658 को "अबुल मुजफ्फर मुहउद्दीन मोहम्मद औरंगज़ेब बहादुर आलमगीर बादशाह गाजी" की उपाधि लेकर जल्दबाजी में औरंगज़ेब ने आगर में अपना राज्याभिषेक किया।
देवराई के युद्ध में सफल होने के बाद 15 मई, 1659 को औरंगज़ेब ने दिल्ली में प्रवेश किया और शाहजहाँ के शानदार महल में 5 जून, 1659 को दूसरी बार राज्याभिषेक करवाया।

औरंगज़ेब की महत्वपूर्ण विजय

  • वीजापुर की विजय - 1686 ई० में।
  • गोलकुण्डा की विजय - 1687 ई० में।

औरंगज़ेब की महत्वपूर्ण नीतियाँ 

  • सिक्को पर कलमा बन्द करबाया।
  • झरोखा दर्शन की प्रथा की समाप्ति।
  • 1661 में हिन्दू त्योहारों पर बैन लगाया।
  • दरबार से संगीतकार एवं इतिहासकारो को हटाया गया ।
  • 1679 में मंदिरों को तोड़ने के आदेश दिये।

औरंगज़ेब की मृत्यु

1681 में औरंगज़ेब दक्षिण भारत के अभियान पर गया। और फिर कभी भी दिल्ली वापस नहीं लौटा। तथा इसकी मृत्यु 20 फरवरी , 1707 ई० को ओरंगाबाद में हुई। इसे खुलदाबाद जो अब रोजा कहलाता हैं, में दफ़नाय गया।



Sunday, November 11, 2018

Current affairs in hindi

November 11, 2018

Current affairs

4-Nov-18 to 10-Nov-18

भारतीय सेना में शामिल हुई M-777 और K-9 आर्टिलरी गन

  • रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने 9 नवंबर को थलसेना में तीन प्रमुख तोप प्रणालियों को शामिल किया, जिनमें ‘एम777 अमेरिकन अल्ट्रा लाइट होवित्जर’ और ‘के-9 वज्र’ शामिल हैं।
  • ‘के-9 वज्र’ एक स्व-प्रणोदित (Self-propelled) तोप है। थलसेना में शामिल की गई तीसरी तोप प्रणाली ‘कॉम्पोजिट गन टोइंग व्हीकल’ है।

मनु-सौरभ ने जूनियर विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण जीता

  • युवा निशानेबाज मनु भाकर और सौरभ चौधरी की जोड़ी ने 9 नवंबर को 11वीं एशियाई एयरगन चैंपियनशिप के दस मीटर एयर पिस्टल मिश्रित टीम स्पर्धा में नए जूनियर विश्व रिकॉर्ड के साथ वांग झियोउ और हांग शुकी की चीनी जोड़ी को हराकर स्वर्ण पदक जीता।
  • भारत की जूनियर निशानेबाजी टीम ने चैंपियनशिप में चार स्वर्ण सहित कुल 11 पदक जीते।

श्रीलंका के राष्ट्रपति ने 5 जनवरी को संसद, चुनावों को भंग कर दिया

  • श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे को बर्खास्त करने के बाद देश में तैयार हुए राजनीतिक और संवैधानिक संकट के बीच 9 नवंबर को संसद को भंग करने का आदेश जारी कर दिया।
  • उन्होंने श्रीलंका में समय से पहले 5 जनवरी 2019 को आम चुनाव कराए जाने का फैसला कर लिया है।

चुनाव आयोग ने छत्तीसगढ़ में 'संगवारी' मतदान बूथ स्थापित किया

  • प्रदेश के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में बनाए जाने वाले पांच पिंक बूथ का नाम बदलकर संगवारी मतदान केंद्र कर दिया गया है। 
  • संगवारी मतदान केन्द्र में सभी मतदान कर्मी सहित अन्य अधिकारी के तौर पर महिलाएं ही रहेंगी।
  • पिंक बूथ को महिला सशक्‍तीकरण से भी जोड़कर देखा जाता है। हालांकि इसका मुख्य मकसद है कि हर महिला व पुरुष को वोट देने का सुखद अनुभव हो। ये उन्हें बूथ तक लेकर आने की पहल है, ताकि चुनावी प्रक्रिया में महिलाओं की ज्यादा भागीदारी हो सके।

अंगद वीर सिंह बाजवा ने जीता एशियाई शॉटगन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक

  • भारतीय निशानेबाज अंगद वीर सिंह बाजवा ने आठवीं एशियाई शॉटगन चैंपियनशिप में 6 नवंबर को पुरुष स्कीट फाइनल में विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता।
  • बाजवा भारत के पहले स्कीट निशानेबाज हैं जिन्होंने महाद्वीपीय या विश्वस्तरीय प्रतियोगिता में  स्वर्ण पदक जीता है, उन्होंने चीन के डी झिन (58 अंक) को हराया।

शक्ति : आईआईटी मद्रास ने विकसित की स्वदेशी माइक्रोप्रोसेसर चिप

  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास ने भारत का पहला स्वदेशी माइक्रोप्रोसेसर विकसित किया है. इस माइक्रोप्रोसेसर को ‘शक्ति’ नाम दिया गया है।
  • यह स्वदेशी माइक्रोप्रोसेसर जल्द मोबाइल फोन, सर्विलांस कैमरा और स्मार्ट मीटर्स को ताकत देने में सहायता करेगा।
  • इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन, चंडीगढ़ की सेमी कंडक्टर लैब में माइक्रोचिप के साथ इसे बनाया गया है।

अनुभवी पत्रकार एन राम को राम राम मोहन रॉय पुरस्कार के लिए चुना गया

  • पीसीआई ने 5 नवंबर को यह घोषणा की है कि प्रसिद्ध पत्रकार और ‘दि हिंदू’ प्रकाशन समूह के अध्यक्ष एन. राम को भारतीय प्रेस परिषद (पीसीआई) की ओर से दिए जाने वाले राजा राम मोहन रॉय पुरस्कार के लिए चुना गया है।
  • पत्रकारिता के क्षेत्र में राम के उत्कृष्ट योगदान के कारण उन्हें इस पुरस्कार के लिए चुना गया।
  • आगामी 16 नवंबर को राष्ट्रीय प्रेस दिवस के अवसर पर राम को इस पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।

शुभंकर डे ने जर्मनी में ज़ारलोरलुक्‍स ओपन बैडमिंटन प्रतियोगिता जीती

  • भारतीय युवा शटलर शुभंकर डे ने 4 नवंबर को अपने करियर का सबसे बड़ा खिताब जीता।
  • शुभंकर डे ने जर्मनी के सारब्रकेन में सारलोरलक्स ओपन बैडमिंटन चैम्पियनशिप में ब्रिटिश के शीर्ष खिलाड़ी राजीव ओसेफ को मात्र 33 मिनट में 21-11, 21-14 से हराया।
          ज़ारलोरलुक्‍स ओपन बैडमिंटन प्रतियोगिता
  • यह एक बैडमिंटन प्रतियोगिता है, जो 30 अक्टूबर से 4 नवंबर 2018 तक जर्मनी के सारब्रकेन में आयोजित किया गया था और इस प्रतियोगिता के विजेता को  75,000 डॉलर पुरस्कार के रूप में दिया गया था।

पश्चिम बंगाल सरकार ने नामसूद्र, मतुआ समुदायों के लिए बोर्ड स्थापित करने का फैसला किया

  • राज्य की जन स्वास्थ्य व समाज कल्याण राज्य मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य ने 5 नवंबर को मंत्रिमंडल की बैठक के बाद जानकारी दी कि पश्चिम बंगाल सरकार ने अनुसूचित जातियों की श्रेणी में शामिल दो समुदायों "नमशूद्र" और "मतुआ" लोगों के सामाजिक और आर्थिक विकास के लिए अलग से बोर्ड गठित करने का निर्णय लिया है।

भारत 4 साल की अवधि के लिए आईटीयू परिषद के सदस्य चुना गया

  • भारत अगले 4 वर्षों की अवधि (2019-2022) के लिए पुनः अंतर्राष्ट्रीय दूरसंचार संघ (आईटीयू)
  • परिषद का सदस्य चुना गया है।
  • परिषद के चुनाव दुबई, संयुक्त अरब अमीरात में चल रहे आईटीयू परिपूर्णता सम्मेलन 2018 के दौरान आयोजित किए गए।
  • आईटीयू के 193 सदस्य देश हैं जो परिषद में प्रतिनिधियों का चुनाव करते हैं।
  • भारत 1952 से आईटीयू परिषद का नियमित सदस्य रहा है, जबकि भारत 1869 से आईटीयू का सक्रिय सदस्य रहा है।

Sunday, September 23, 2018

current affairs of india

September 23, 2018

Current affairs


मानव विकास सूचकांक-2018 जारी

  • मानव विकास सूचकांक (ह्यूमन डिवेलपमेंट इंडेक्स) के मामले में इस बार भारत की रैकिंग में एक पायदान का सुधार हुआ है।
  • बता दें, कि भारत अब 189 देशों के बीच 130वें नंबर पर पहुंच गया है।
  • साल 2017 के लिए भारत का एचडीआई मूल्य 0.640 रहा है, इसी के चलते भारत को मानव विकास श्रेणी में रखा गया है।
  • वर्ष 1990 से 2017 के बीच में भारत के एचडीआई वैल्यू में 0.427 से लेकर 0.640 की वृद्धि हुई है।
  • इसमें करीब 50 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इस सूची में बांग्लादेश 136वें और पाकिस्तान 150वें नंबर पर है।
  • रिपोर्ट के अनुसार, भारत की सकल राष्ट्रीय प्रति व्यक्ति आय 1990 से 2017 के बीच 266.6 प्रतिशत बढ़ गई, लेकिन एचडीआई मूल्य का करीब 26.8 प्रतिशत असमानताओं की वजह से कम हो जाता है।

16 सितंबर को मनाया गया विश्व ओजोन दिवस

  • विश्व ओजोन परत संरक्षण दिवस हर साल 16 सितंबर को दुनियाभर में मनाया जाता है।
  • ओजोन परत ओजोन अणुओं की एक परत है जो विशेष रूप से 20 से 40 किलोमीटर के बीच के वायुमंडल के समताप मंडल परत में पाई जाती है।

राष्ट्रीय खेल पुरस्कार -2018 की घोषणा की गई

  • भारत में इस साल के राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों की घोषणा की गई जिसके तहत मीराबाई चानू और विराट कोहली को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से नवाजा जाएगा।
  • बता दे, राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार खिलाड़ियों को पिछले चार साल के उत्कृष्ट प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए दिया जाता है।
  • इस पुरस्कार में सम्मान पत्र के अलावा साढ़े सात लाख रुपये नकद दिया जाता है।
  • वहीं, अर्जुन पुरस्कार के लिए चार साल तक लगातार बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को चुना जाता है।
  • इसके विजेता अवार्ड के अलावा पांच लाख रुपये नकद दिए जाते हैं।
  • द्रोणाचार्य पुरस्कार केवल उन कोच को दिया जाता है, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में मेडल जीतने वाले खिलाड़ी दिए हैं।
  • ध्यानचंद पुरस्कार लंबे वक़्त तक खेल के क्षेत्र में काम करने और राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार उन कंपनियों (सरकारी और प्राइवेट) को दिया जाता है, जिन्होंने खेलों के प्रचार-प्रसार और विकास में योगदान दिया है।
  • द्रोणाचार्य और ध्यानचंद अवार्ड से सम्मानित लोगों को सम्मान के साथ पांच-पांच लाख रुपये दिए जाते हैं।
  • सम्मानित खिलाड़ियों को राष्ट्रपति 25 सितंबर, 2018 को राष्ट्रपति भवन में सम्मानित करेंगे।
  • इससे पहले यह खिताब महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (1997) और दो बार विश्व कप जीतने वाले पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धौनी (2007) को मिला है।
  • पिछले साल विश्व चैम्पियनशिप में 48 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीतने के कारण इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए मीराबाई के नाम की सिफारिश की गई है। उन्होंने इस साल राष्ट्रमंडल खेलों में भी पीला तमगा हासिल किया था, लेकिन चोट के कारण एशियाई खेलों में भाग नहीं ले सकी।
  • कोहली के नाम 71 टेस्ट मैचों में 23 शतकों के साथ 6147 रन हैं जबकि 211 एकदिवसीय में उन्होंने 9779 रन बनाये हैं जिसमें 35 शतक शामिल हैं।

मुताज मूसा अब्दुल्ला बने सूडान के नए प्रधानमंत्री

  • मुताज मूसा अब्दुल्ला ने सूडान के नए प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।
  • नए प्रधानमंत्री मुताज मूसा अब्दुल्ला के पास वित्त मंत्रालय का भी प्रभार है।

भारत-बांग्‍लादेश पेट्रोलियम पाइपलाइन निर्माण परियोजना का शुभारंभ

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने वीडियो कांफ्रेस के जरिये भारत-बंगलादेश मैत्री पाइपलाइन परियोजना के निर्माण का संयुक्त रूप से शुभारंभ किया।
  • बता दें, दोनों देशों के बीच, इस वर्ष अप्रैल में विदेश सचिव विजय गोखले की ढाका यात्रा के दौरान पैट्रोलियम पाइपलाइन निर्माण का यह समझौता हुआ था।
  • एक सौ तीस किलोमीटर लम्बी यह पाइपलाइन भारत में पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी और बांग्लादेश में दिनाजपुर जिले के पार्बतीपुर को जोड़ेगी।
  • इस परियोजना की अनुमानित लागत 346 करोड़ रुपये होगी और इसे तीस महीने में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • पाइपलाइन परियोजना का छह किलोमीटर हिस्सा भारत में होगा जबकि एक सौ चौबीस किलोमीटर पाइपलाइन बांग्लादेश में होगी।

केन्‍द्र का बैंक आफ बड़ौदा, विजया बैंक और देना बैंक के विलय का प्रस्‍ताव

  • सरकार ने बैंक ऑफ बड़ौदा, विजया बैंक और देना बैंक के विलय का प्रस्‍ताव किया है।
  • योजना की घोषणा करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि इससे बैंक और मजबूत होंगे तथा उनकी कर्ज देने की क्षमता बढ़ेगी।

भारत की पहली आईएएस अधिकारी नहीं रही

  • आजाद भारत की पहली महिला आईएएस अधिकारी अन्ना मल्होत्रा का 91 वर्ष की आयु में 17 सितम्बर को मुंबई में निधन हो गया।
  • साल 1989 में उन्हें भारत सरकार के नागरिक सम्मान पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • अन्ना मल्होत्रा ने साल 1951 में भारतीय सिविल सेवा की परीक्षा पास की और अपनी सेवाएं देने के लिए तमिलनाडु कैडर को चुना।
  • अन्ना को मुंबई के नजदीक देश के आधुनिक बंदरगाह जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट (जेएनपीटी) की स्थापना में योगदान के लिए जाना जाता है।

शीतलन कार्य योजना जारी करने के लिए दुनिया का पहला देश बना भारत

  • इंडिया कूलिंग एक्शन प्लान (आईसीएपी) के मसौदे को एक हरित निकाय ने ‘‘पूरी तरह अपर्याप्त’’ करार दिया और उसका दायरा सीमित बताते हुए इसे खारिज कर दिया।
  • आईसीएपी में उन कार्यों को सूचीबद्ध किया गया जो कूलिंग की मांग कम करने और उत्सर्जन कम करने में मदद कर सकते हैं।
  • विज्ञान एवं पर्यावरण केंद्र (सीएसई) ने आईसीएपी में तत्काल संशोधन के लिए भी कहा।
  • केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन सिंह ने विश्व ओजोन दिवस कार्यक्रम के दौरान आईसीएपी का मसौदा जारी किया।
  • सीएसई की कार्यकारी निदेशक- रिसर्च एवं एडवोकेसी अनुमिता रॉय चौधरी है।

बीएआरसी निदेशक के एन व्यास परमाणु ऊर्जा आयोग के अध्यक्ष नियुक्त

  • प्रसिद्ध वैज्ञानिक कमलेश निलकांत व्यास परमाणु ऊर्जा विभाग और परमाणु ऊर्जा आयोग के अध्यक्ष नियुक्त किए गए हैं।
  • कार्मिक मंत्रालय द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने अपनी नियुक्ति को तब तक के लिए मंजूरी दे दी है जब तक वह 64 साल की उम्र प्राप्त नहीं कर लेते, यानी 3 मई, 2021 तक के लिए।
  • व्यास, जोकि वर्तमान में भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र (बीएआरसी) के निदेशक हैं, इन्हे शेखर बसु के स्थान पर नियुक्त किया गया है।
  • बसु को अक्टूबर 2015 में इस पद पर नियुक्त किया गया था और उनका कार्यकाल सितंबर 2016 में समाप्त हुआ था।
  • हालांकि, उन्हें एक-एक वर्ष का दो विस्तार (extension) दिया गया, एक 2016 में और दूसरा 2017 में।

बुकर पुरस्कार : डेजी जॉनसन बनी सबसे काम उम्र की लेखिका

  • ब्रिटिश लेखिका डेजी जॉनसन, मां-बेटी वाले अपने उपन्यास ‘एवरीथिंग अंडर’ को लेकर 2018 के प्रतिष्ठित मैन बुकर पुरस्कार के लिए 20 सितम्बर को अंतिम दौड़ में पहुंचने वाली सबसे कम उम्र की लेखिका बन गयीं। डेजी 27 साल की हैं।
  • इसके अलावा ब्रिटिश लेखक एन्ना बर्न ने ‘मिल्कमैन’ और रोबिन रॉबर्टसन ने ‘द लांग लेक’ कृति को लेकर इस प्रतिष्ठित पुरस्कार के आखिरी दावेदारों में अपनी जगह बनायी है।
  • अंतिम दौड़ में जगह बनाने वाले अमेरिकी लेखक राशेल कुशनर और रिचर्ड पावर्स हैं। उनकी कृतियां क्रमश: ‘द मार्स रुम’ और ‘द ओवरस्टोरी’ हैं।
  • बता दें, इस पुरस्कार की घोषणा 16 ऑक्टूबर को की जाएगी। इसमें विजेता को 50,000 पाउंड दिये जाते हैं।

केंद्रीय गृहमंत्री ने महिला सुरक्षा सुदृढ़ करने के लिए दो पोर्टल लॉन्च किए

  •  केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने नई दिल्ली में महिला सुरक्षा सुदृढ़ करने के लिए दो अलग-अलग पोर्टल लॉन्च किए।
  • पोर्टल “cybercrime.gov.in” चाइल्ड पोर्नोग्राफी, बाल यौन उत्पीड़न सामग्री, दुष्कर्म एवं सामूहिक दुष्कर्म जैसी यौन रूप से संबंधित आपत्तिजनक ऑनलाइन कंटेंट पर नागरिकों से शिकायतें प्राप्त करेगा।
  • इनमें सख्त सजा का प्रावधान एवं जांच में सुधार लाने के लिए आधुनिक फोरेंसिक सुविधाओं का सृजन, गृह मामले मंत्रालय में महिला सुरक्षा प्रभाग की स्थापना एवं महिलाओं की सुरक्षा के लिए सुरक्षित नगर परियोजनाएं शुरू किया जाएगा।
  • दोनों पोर्टल विशेष रूप से ऐसी जांचों में कानून प्रवर्तन एजेंसियों के लिए बेहद सहायक होगा, जिनमें अपराधी अपराध करने के बाद दूसरे राज्यों में भाग जाते हैं।
  • महिला एवं बच्चों के खिलाफ साइबर अपराध रोकथाम (सीसीपीडब्ल्यूसी) पोर्टल सुविधाजनक और उपयोग में आसान है जो शिकायतकर्ताओं को बिना उनकी पहचान जाहिर किए शिकायत दर्ज कराने में सहायता करेगा।
  • वहीं, दूसरा पोर्टल यौन अपराधियों पर राष्ट्रीय डाटाबेस (एनडीएसओ) से संबंधित है। यह देश में ‘यौन अपराधियों’ पर एक केंद्रीय डाटाबेस है, जिसका रखरखाव नियमित निगरानी के लिए एनसीआरबी द्वारा किया जाएगा एवं राज्य पुलिस द्वारा इसकी ट्रैकिंग की जाएगी।

बहुआयामी गरीबी सूचकांक जारी

  • संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) और ऑक्सफोर्ड गरीबी एवं मानव विकास पहल (ओपीएचआई) द्वारा जारी 2018 विश्वव्यापी बहुआयामी गरीबी सूचकांक (एमपीआई) के अनुसार पिछले 10 वर्षों में भारत में बहुआयामी गरीबों की संख्या घटकर लगभग आधी हो गई है। यह 54.7 प्रतिशत से गिरकर 27.5 प्रतिशत हो गई है।
  • गरीबी में रहने वाले सभी लोगों में से आधे 18 साल से कम उम्र के हैं।
  • 2018 की रिपोर्ट ने 105 देशों के लिए डेटा प्रदान किया, जो दुनिया की लगभग 75 प्रतिशत आबादी को कवर करती है।
  • बहुआयामी गरीबी के लिहाज से देखा जाए तो दक्षिण एशियाई देशों में सिर्फ मालदीव की स्थिति भारत से अच्छी है।

टीएन सरकार ने नीला कुरुंजी की सुरक्षा के लिए योजना की घोषणा की

  • तमिलनाडु सरकार ने नीला कुरुंजी (स्ट्रोबिलेंथेस कुंथियानस) पौधों की सुरक्षा के लिए नावेल योजना की घोषणा की है।
  • बता दें Strobilanthus kunthianus यानी नीला कुरुंजी के फूल 12 साल में केवल एक बार खिलते हैं।
  • शिकायतों के बाद भी इन दुर्लभ फूलों को वाणिज्यिक आधार पर बेचा जा रहा है, राज्य विभाग ने चेतावनी दी है कि ऐसे अपराधियों पर सख्त जुर्माना लगाया जाएगा।
  • यह फूल विदेशिओं और मूल पर्यटकों के लिए एक प्रमुख आकर्षण है और पर्यटन से विदेशी मुद्रा कमाई का माध्यम है।

प्रधानमंत्री मोदी ने पश्चिमी ओडिशा के पहले हवाई अड्डे का उद्घाटन किया

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 सितम्बर को ओडिशा के झरसुगुडा में पश्चिमी ओडिशा के पहले हवाई अड्डे और तालचेर में एक उर्वरक संयंत्र समेत कई विकास परियोजनाओं की शुरुआत की।
  • यह भारत का पहला ऐसा संयंत्र होगा, जिसमें कोयले की गैस पर आधारित उर्वरक इकाई होगी। इस संयंत्र में प्राकृतिक गैस का उत्पादन भी किया जाएगा।
  • संयंत्र का निर्माण उर्वरक निगम ऑफ इंडिया लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है।
  • इस हवाई अड्डे से केंद्र सरकार की उड़ान योजना के माध्यम से क्षेत्रीय हवाई सेवाएं शुरू की जा सकेंगी।

Friday, September 21, 2018

Current affairs today

September 21, 2018

Current affairs of india

भारत के वर्तमान मामले


   20-09-2018


तीन तलाक पर रोक लगाने का अध्‍यादेश जारी

  • राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने तीन तलाक पर रोक लगाने के लिए अध्‍यादेश को जारी कर दिया है।
  • इससे पहले केंद्रीय मंत्रिमंडल ने तीन तलाक को दण्डनीय अपराध बनाने के अध्यादेश को मंजूरी दी थी।
  • इसमें तीन तलाक के जरिये वैवाहिक संबंध विच्छेद करने वाले व्यक्ति को तीन साल की सजा का प्रावधान है।
  • कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया कि अध्‍यादेश के तहत पीड़ित महिला या उसके सगे-संबंधियों द्वारा पति के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने पर ही तीन तलाक को अपराध माना जाएगा।
  • प्रसाद ने यह भी कहा कि मजिस्ट्रेट, पीड़िता की बात सुनने के बाद उचित आधार पर आरोपी को जमानत दे सकेगा।
  • बच्चों को पत्नी के सुपुर्द किया जाएगा, और उसे अपने तथा बच्चों के भरण-पोषण का खर्च पाने का हक होगा जिसका निर्धारण मजिस्‍ट्रेट करेगा। 

डब्ल्यूएचओ ने ग्लोबल ट्यूबरकुलोसिस रिपोर्ट जारी की

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की एक नई रिपोर्ट के मुताबिक पूरी दुनिया में पिछले वर्ष एक करोड़ लोग टीबी से पीड़ित हुए।
  • बता दें, 18 सितम्बर को WHO की ग्लोबल ट्यूबरक्लोसिस रिपोर्ट-2018 जारी की गई थी।
  • इसमें टीबी के बारे में व्यापक और नवीनतम आकलन है साथ ही वैश्विक, क्षेत्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर इस बीमारी को लेकर क्या कदम उठाए जा रहे हैं, उनमें क्या प्रगति आई है, जैसी जानकारी भी दी गई है।
  • रिपोर्ट में कहा गया कि वैश्विक स्तर पर आकलन के मुताबिक वर्ष 2017 में एक करोड़ लोगों को टीबी हुई, इनमें से 58 लाख पुरुष, 32 लाख महिलाएं और दस लाख बच्चे हैं।
  • दुनियाभर में टीबी के कुल मरीजों में दो तिहाई आठ देशों में हैं। इनमें से भारत में 27 फीसदी मरीज हैं।
  • रिपोर्ट में कहा गया कि टीबी के कारण प्रतिदिन करीब चार हजार लोगों की जान चली जाती है।
  • इसमें कहा गया है कि दुनियाभर में रोगों से होने वाली मौत की दसवीं सबसे बड़ी वजह टीबी है।
  • बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वर्ष 2030 तक दुनिया से टीबी के उन्मूलन का लक्ष्य तय कर रखा है। 

भारत और मोरक्‍को ने कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए हवाई सेवा समझौते पर हस्‍ताक्षर किए

  • भारत व मोरक्‍को ने संशोधित हवाई सेवा समझौते पर हस्‍ताक्षर किए हैं।
  • इस आधुनिक समझौते से दोनों देशों के बीच हवाई कनेक्टिविटी बढ़ जाएगी। इसके साथ ही दोनों देशों की एयरलाइनें आपस में कोड को साझा कर सकेंगी।
  • इस समझौते के परिणामस्‍वरूप दोनों देशों के बीच सीधी उड़ानों की संख्‍या बढ़ाने में अब और भी अधिक आजादी संभव होगी।
  • नागरिक उड्डयन क्षेत्र में इन घटनाक्रमों या समझौतों से एक देश के लोगों को दूसरे देश की यात्रा करने में सहूलियत होगी जिससे पारस्‍परिक आर्थिक एवं सांस्‍कृतिक संबंध और ज्‍यादा मजबूत होंगे।  

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बलगम नमूना भेजने के लिए डाक विभाग की सुविधा आरंभ की

  • तपेदिक की जांच के लिए बलगम नमूने भेजने के लिए डाक विभाग की सुविधाओं का उपयोग करते हुए स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने दिल्‍ली के करावल नगर में एक पायलट योजना शुरु की।
  • अपर सचिव एवं महानिदेशक (आरएनटीसीपी एंड एनएसीओ) संजीव कुमार ने संजीव खिरवार, प्रधान सचिव (स्‍वास्‍थ्‍य), जीएनसीटीडी, हरप्रीत सिंह, डाक महानिदेशक एमएंडबीडी) और डॉ के एस सचदेव, डीडीजी टीबी की उपस्थिति में यह पहल आरंभ की।
  • बड़ी संख्‍या में रोगियों की इसलिए जांच नहीं हो पाती क्‍योंकि नमूना भेजने के तंत्र के अभाव में नमूने प्रयोगशालाओं तक समय पर नहीं पहुंच पाते।
  • नमूनों को त्‍वरित गति से भेजे जाने एवं प्रभावी जांच से तपेदिक के मरीजों के उपयुक्‍त प्रबंधन में मदद मिलेगी एवं रोग के फैलाव में कमी आएगी। 

भारत और रूस की वायु सेनाओं के बीच ‘एविया इंद्र’ अभ्यास

  • भारत और रूस की वायु सेनाएं 12 दिवसीय अभ्यास ‘एविया इंद्र’ में भाग ले रही हैं, जो द्विपक्षीय परिदृश्य में आतंकवाद रोधी अभियानों पर केंद्रित है।
  • भारतीय वायुसेना ने 19 सितम्बर को एक बयान में कहा कि एविया इंद्र 17 से 28 सितंबर तक रूस के लिपेत्स्क में आयोजित किया जा रहा है।
  • इसका दूसरा चरण 10 दिसंबर से 22 दिसंबर तक जोधपुर में आयोजित किया जाएगा।